Cricket India: क्रिकेटर धोनी पर रिटायर क्रिकेटर ने लगाया बड़ा आरोप, मोका नहीं मिलने से करियर हुआ समाप्त

Cricket India

Cricket India: एमएस धोनी की कप्तानी में कई खिलाड़ी भारत के लिए खेले, लेकिन कुछ को मौका नहीं मिला। धोनी ने भारत के कई खिलाड़ियों का जीवन बदला और कई खिलाड़ियों के भारतीय टीम के लिए खेलने के सपने को साकार करने में बड़ी भूमिका निभाई, लेकिन अब एक क्रिकेटर ने महेंद्र सिंह धोनी पर बड़ा आरोप लगाया है। चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान के रूप में भी धोनी ने कई खिलाड़ियों की पहचान की थी, जिन्हें देश के लिए खेलने का मौका मिला। 

ईश्वर पांडेय ने लगाया आरोप

सीएसके के लिए खेलने वाले मोहित शर्मा, मुरली विजय, एस बद्रीनाथ और आर अश्विन जैसे कई खिलाड़ी भारत के लिए खेले। हालांकि, कुछ खिलाड़ी ऐसे भी थे, जिन्होंने चेन्नई सुपर किंग्स के लिए अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन भारतीय टीम में जगह नहीं बना सके। उन्हीं में एक नाम तेज गेंदबाज ईश्वर पांडे का है, जिन्होंने आरोप लगाया है कि अगर एमएस धोनी ने उनको एक मौका दिया होता तो वे देश के लिए अच्छा प्रदर्शन कर सकते थे।  

2014 में टेस्ट के लिए मिली थी जगह

सोमवार को क्रिकेट के सभी प्रारूपों से रिटायरमेंट का ऐलान करने वाले 33 वर्षीय ईश्वर पांडे ने आईपीएल के 25 मैचों में 18 विकेट लिए, जबकि 75 फर्स्ट क्लास मैचों में 263 विकेट चटकाए। इसी के दम पर उनको 2014 में न्यूजीलैंड के दौरे पर टेस्ट टीम में जगह मिली थी। उस समय टीम के कप्तान एमएस धोनी थे, लेकिन ईश्वर पांडे को मौका नहीं मिला था। इसी को लेकर पांडे ने खुलासा किया कि अगर धोनी ने उन पर थोड़ा और विश्वास दिखाया होता और संभवत: उन्हें कुछ मौके दिए होते, तो उनका करियर कुछ अलग होता।

दो फ्रेंचाइजी के लिए खेलचुके हैं आईपीएल

ईश्वर पांडे ने दैनिक जागरण को दिए इंटरव्यू में कहा, “अगर धोनी ने मौका दिया होता तो मेरा करियर कुछ और होता। तब मैं 23-24 साल का था और मेरी फिटनेस भी काफी अच्छी थी। अगर धोनी भाई ने मुझे मौका दिया होता और मैं देश के लिए अच्छा करता, तो मेरा करियर निश्चित रूप से अलग होता।” मध्य प्रदेश में जन्मे इस खिलाड़ी ने चेन्नई सुपर किंग्स के अलावा राइजिंग पुणे सुपरजाएंट्स के लिए भी आईपीएल खेला है। वे लंबे समय तक मध्य प्रदेश की गेंदबाजी यूनिट का प्रमुख हिस्सा फर्स्ट क्लास क्रिकेट में रहे हैं। 

भारत के लिए खेलना मेरे लिए बहुत अहम् था

ईश्वर पांडे ने अपने रिटायरमेंट पोस्ट में लिखा था, “मैं अपने देश के लिए एक मैच भी खेलने के लिए भाग्यशाली नहीं था, लेकिन फिर भी भारतीय टीम का हिस्सा बनना हमेशा मेरे जीवन की सबसे खास याद रहेगी। मुझे चुनने के लिए मैं आरपीएसजी और सीएसके को धन्यवाद देना चाहता हूं। सीएसके टीम का हिस्सा बनना और आईपीएल फाइनल खेलना और चैंपियंस लीग जीतना खास था। मुझे एमएस धोनी और स्टीफन फ्लेमिंग के मार्गदर्शन में 2 साल तक सीएसके के लिए खेलते हुए अपना समय बहुत अच्छा लगा।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.