पृथ्वी शॉ ट्रिपल सेंचुरी जड़ने के बाद हुए भावुक, अपने आलोचकों पर कही ये बात

PRITHVI SHAW

भारतीय क्रिकेट टीम के युवा खिलाड़ी पृथ्वी शॉ ने बुधवार को घरेलू क्रिकेट में इतिहास रच दिया। इन दिनों भारत की सबसे बड़ी घरेलू टूर्नामेंट रणजी ट्रॉफी 2022-23 का सत्र जारी है। इसमें कई खिलाड़ियों का जलवा देखने को मिल रहा है, इसी बीच 11 जनवरी को भारतीय क्रिकेट टीम के 23 साल के युवा स्टार पृथ्वी शॉ ने जबरदस्त पारी खेलते हुए 379 रनों बनाकर हर किसी का ध्यान अपनी और खींच लिया है।

पृथ्वी शॉ ने खेली ऐतिहासिक पारी, रणजी के रण में बनाए 379 रन

मुंबई के इस स्टार बल्लेबाज ने असम के खिलाफ शानदार बल्लेबाजी की। उन्होंने 383 गेंदों का सामना करते हुए 49 चौकों और 4 छक्कों की मदद से 379 रन की दूसरी सबसे बेस्ट पारी खेली। भारत के लिए प्रथम श्रेणी क्रिकेट में पृथ्वी दूसरा सबसे निजी स्कोर बनाने में कामयाब रहे। उनसे आगे सिर्फ भाऊसाहेब निबांलकर ही हैं, जिन्होंने 1948 में 443 रन की पारी खेली थी। उनका रिकॉर्ड तोड़ने से पृथ्वी चूक गए। लेकिन उन्होंने अपने आलोचकों का करार जवाब दे दिया है।

अपनी पारी के बाद आलोचकों को दिया जवाब

इस बेहतरीन पारी के बाद पृथ्वी शॉ का दर्द छलक पड़ा। उन्हें पिछले कुछ साल से भारतीय क्रिकेट टीम से लगातार नजरअंदाज किया जा रहा है। उन्हें 2021 के बाद से भारतीय टीम में जगह नहीं मिल सकी है। अपनी इस पारी के बाद उन्होंने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट डालते हुए लिखा कि उम्‍मीद है कि आप सबकुछ देख रहे होंगे साईं बाबा।

वो लोग करते हैं जज, जो मुझे जानते ही नहीं

इसके अलावा उन्होंने पीटीआई से बात करते हुए उन लोगों के जजमेंट के बारे में बताया, जो उन्हें जानते तक नहीं। उन्होंने कहा कि, कभी आप निराश हो जाते हैं। आपको पता है कि आप चीजें सही कर रहे हैं। आपको पता है कि आपकी प्रक्रिया सही है। आप अपने आप से ईमानदार हैं। आप मैदान के अंदर और बाहर अपने करियर के साथ अनुशासित हैं। मगर कभी लोग अलग बातें करते हैं। लोग, जो आपको जानते तक नहीं हैं, वो भी आपको जज करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *